loading...

अपने प्रोडक्शन हाउस के तहत 12 शॉर्ट फिल्मों का निर्माण करेंगे विपुल अमृतलाल शाह, युवा प्रतिभाओं को देंगे मौका

जाने-माने निर्माता-निर्देशक विपुल अमृतलाल शाह ने एक नई शुरुआत करते हुए 12 शॉर्ट फिल्मों का निर्माण करने का फैसला लिया है। जिसे वे अपने प्रोडक्शन बैनर सनशाइन पिक्चर्स प्राइवेट लिमिटेड के तहत बनाएंगे। इन्हें बनाने के पीछे उनका मकसद एकबार फिर अपनी जड़ों की ओर रुख करना है।

शॉर्ट फिल्मों के पीछे छिपी अपनी प्रेरणा के बारे में बात करते हुए, विपुल शाह ने बताया, 'मैंने डेली सोप्स में लगभग 1000 एपिसोड किए हैं और फिल्में भी बनाई हैं, लेकिन ऐसी कुछ अद्भुत कहानियां होती हैं जिन्हें केवल 15-20 मिनट की अवधि में बताया जा सकता हैं। यह एक अलग और रोमांचक फॉर्मेट है और ऐसा कुछ है जो मैंने अब तक नहीं किया है।'

कई कहानियों को बड़े फॉर्मेट में नहीं बता सकते

'ऐसे कई आइडिया और कहानियां हैं जो एक फीचर फिल्म या ओटीटी वेब शो फॉर्मेट में फिट नहीं हो सकती हैं, लेकिन फिर भी इन कहानियों को बताने की आवश्यकता है और आज शॉर्ट फिल्म का फॉर्मेट उपलब्ध है। यह एक रोमांचक कहानी, रोमांचक कंटेंट और कहानी कहने का रोमांचक तरीका है।'

नई प्रतिभाओं के साथ काम करना रोमांचक होता है

अपनी शॉर्ट फिल्मों के लिए युवा, महत्वाकांक्षी प्रतिभाओं के साथ अपने सहयोग पर विपुल कहते हैं, 'नई प्रतिभाओं के साथ काम करना हमेशा रोमांचक होता है। ये नए लेखक, जिनके साथ हम काम करना चाह रहे हैं, वे हमारे उस समय से कहीं आगे के हैं जब हमने लिखना शुरू किया था।'

वो बेहद तैयार और जानकार हैं


आगे उनकी तारीफ करते हुए शाह ने कहा, 'वे इतने अद्भुत, अच्छी तरह से तैयार और जानकार हैं कि आप उनके साथ काम करना चाहेंगे। हम इस काम के सभी फॉर्मेट्स में बहुत सारे नए लेखकों के साथ काम करेंगे जो हम करना चाहते हैं। हम कुछ नई और स्थापित प्रतिभाओं से मिलते रहना और अच्छी कहानियां पढ़ना जारी रखेंगे।'

हम विभिन्न फिल्म फेस्टिवल्स का भी रुख करेंगे

शॉर्ट फिल्मों को रिलीज करने की अपनी योजना पर विपुल कहते हैं, 'इन्हें रिलीज करने की कोई जल्दी नहीं है। हम रिलीज करने से पहले विभिन्न फिल्म फेस्टिवल्स का भी रुख करेंगे। यह मेरे और मेरी टीम के लिए भी एक नया क्षेत्र है और हम इन्हें ठीक तरीके से रिलीज करना चाहते हैं।'



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
निर्माता-निर्देशक विपुल अमृतलाल शाह।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bzIkFK

0 komentar

adnow

loading...