loading...

श्रुति मोदी के वकील का आरोप: सुशांत की दो बहने लेती थीं ड्रग्स, परिवार को भी थी इसकी जानकारी; नशे के कारण लगातार गिर रहा था सुशांत का करियर

सुशांत सिंह राजपूत मामले में ड्रग्स को लेकर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। ताजा मामले में सुशांत और रिया की मैनेजर रही श्रुति मोदी के वकील अशोक सरावगी ने दावा किया है कि सुशांत की बहनें उन पार्टियों में शामिल होती थीं जिनमें ड्रग्स का इस्तेमाल किया जाता था। कुछ दिन पहले ईडी द्वारा रिया चक्रवर्ती के दो फोन की क्लोनिंग की गई और इससे रिकवर चैट में ड्रग्स एंगल का खुलासा हुआ था, जिसके बाद गोवा के होटल कारोबारी गौरव आर्य को आज ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया है।

सुशांत के परिवार को उनकी बहनों के ड्रग्स लेने की जानकारी थी
आज तक को दिए इंटरव्यू में सरावगी ने दावा किया कि सुशांत सिंह राजपूत की बहनें 'ड्रग्स पार्टी' का हिस्सा होती थीं। वो इनमें शामिल हुआ करती थीं। उन्होंने कहा कि सुशांत की बहन जो मुंबई में रहती हैं वो शराब का सेवन करती थीं। वो इसकी काफी शौकीन थीं। अशोक का मानना है कि सुशांत के परिवार को इस बारे में जानकारी थी कि वो ड्रग्स ले रहे थे।

व्हाट्स ऐप ग्रुप में मौजूद हर शख्स लेता था ड्रग्स
अशोक सरावगी ने कहा, 'एक व्हाट्सएप पर ग्रुप था जिसमें ड्रग्स लेने पर चर्चा होती थी। उस ग्रुप में सुशांत और रिया के अलावा सोहेल (ड्राइवर और बॉडीगार्ड), दोस्त आयुष शर्मा, आनंदी थीं जो कभी-कभी सुशांत के घर रुककर ड्रग्स लेते थे। उस ग्रुप में मौजूद हर कोई ड्रग्स लेता था। मैनेजर श्रुति को इन लोगों ने लेने को कहा था लेकिन उन्होंने मना कर दिया और उन्होंने कहा कि अगर उनसे दोबारा यह पूछा गया तो वह ग्रुप छोड़ देंगी, इसलिए उनसे दोबारा यह नहीं पूछा गया। उस ग्रुप में होने के वजह से सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स के बारे में सब कुछ पता था और वह भी इसका सेवन करते थे।'

खर्चों को लेकर परेशान थे सुशांत
अशोक सरावगी ने आगे कहा, "सुशांत अपने खर्चों को लेकर काफी परेशान थे और वह उनको वह जल्द की कम करना चाहते थे। सुशांत सिंह राजपूत के खर्चों को लेकर रिया चक्रवर्ती ने 11 जनवरी को एक मीटिंग भी बुलाई थी, जिसका सुशांत हिस्सा तो नहीं बन पाए थे। लेकिन मीटिंग की रिकॉर्डिंग की गई थी। जिस बाद में सुशांत ने सुना भी था श्रुति समेत कई लोगों से पूछताछ भी की थी।"

परिवार वाले सुशांत के लिए खुलवाना चाहते थे रेस्टोरेंट
अशोक सरावगी ने आगे बताया, " सुशांत को पता था कि उनके खर्च बहुत ज्यादा हैं और इसलिए वह चिंतित थे। वह अपने रुपयों को लेकर काफी असुरक्षित रहते थे। वहीं सुशांत के परिवार वाले चाहते थे कि वह वापस आ जाए क्योंकि वह उनके लिए एक रेस्टोरेंट खुलवाना चाहते थे, लेकिन सुशांत को यह मंजूर नहीं था।"

ड्रग्स ने डाला सुशांत के करियर पर असर
श्रुति मोदी के वकील ने कहा कि ड्रग्स की वजह से सुशांत के करियर पर भी असर पड़ रहा था। उन्होंने कहा, 'जनवरी में एक कंपनी सुशांत को अपना ब्रांड एंबेसडर बनाना चाहती थी। लेकिन उस समय वे टाउन में नहीं थे, इसलिए कंपनी ने कहा था कि वे एक्टर की पुरानी फोटोज से काम चलाएगी, लेकिन पैसे भी पचास प्रतिशत कम देगी। सुशांत को वो डील मंजूर नहीं थी और उन्होंने मुंबई आने का वादा किया था। लेकिन जब सुशांत मुंबई पहुंचे तो उनकी हालत को देख कंपनी ने वो ऑफर ही कैंसिल कर दिया था। सुशांत उस समय ठीक नहीं थे।'

श्रुति ने बहन मीतू को बताया था सुशांत डिप्रेशन में थे

इससे पहले रविवार को श्रुति मोदी और सुशांत की बहन मीतू सिंह के बीच हुई वॉट्सऐप चैट सामने आई थी। जिससे यह खुलासा हुआ है कि सुशांत डिप्रेशन में थे, यह बात उनकी बहन को पता थी। इस चैट में श्रुति ने डॉक्टर का नंबर और सुशांत के लिए प्रिस्क्राइब की गई दवाओं का नाम भी बताया गया है।

इस चैट के स्क्रीन शॉट में मीतू ने खुद श्रुति से बात करते हुए डॉक्टर से मिलने की बात कही थी। यह चैट 26 नवंबर 2019 की है। श्रुति ने इस चैट में वह प्रिस्क्रिप्शन भी शेयर किया है जो डॉक्टर ने 10 दिन के लिए उन्हें दिया था। इस चैट में उनकी बहन मीतू का नाम नीतू दीदी लिखा है।

8 जून से सुशांत के साथ थीं मीतू

रिया के घर छाेड़ने के बाद मीतू ही 8 से 13 जून तक सुशांत के साथ थीं। सीबीआई मीतू से सुशांत के बारे में पूछ सकती है कि इतने दिनों में सुशांत का व्यवहार, बातचीत और मानसिक स्थिति कैसी थी। खबर यह भी है कि मीतू और सभी आरोपियों को आमने-सामने बैठाकर भी पूछताछ की जा सकती है। इससे पहले रिया ने सुशांत की बहन प्रियंका पर आरोप लगाया था कि उन्होंने नशे में रिया से दुर्व्यवहार किया था। इसी को लेकर प्रियंका और उनके पति सिद्धार्थ से भी सीबीआई पूछताछ करेगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अशोक सरावगी(बाएं) श्रुति मोदी का केस देख रहे हैं। श्रुति मोदी सुशांत की मैनेजर रह चुकी हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34OXwxI

0 komentar

adnow

loading...